Shok Samachar

Dev Raj Malra Lefts For Heaven

शाही फाउंडरी वाले देव राज मालड़ा हुए स्वर्गवास

देव राज मालड़ा के अंतिम संस्कार की रस्में पूरी करते हुए पुत्र मनोज कुमार मालड़ा

लुधियाना, 28-3-2021 (क.क.प.) – कश्यप समाज के मशहूर इंडस्ट्रीलिस्ट, शाही फाउंडरी के मालिक, पंजाब कश्यप राजपूत सभा के पूर्व प्रधान देव राज मालड़ा जी अपनी संसारिक यात्रा पूरी करते हुए 27 मार्च 2021 को स्वर्ग सिधार गए। 27 मार्च की रात 11.00 बजे के करीब उनको हार्ट अटैक आया जिससे उनकी मौत हो गई।
उनका अंतिम संस्कार 28 मार्च 2021 को शाम 5 बजे ढोलेवाल के श्मशानघाट में किया गया। उनके अंतिम दर्शन करने और संस्कार में शामिल होने के लिए रिश्तेदार, दोस्त, कश्यप समाज के बहुत से माननीय सदस्य, लुधियाना के बहुत से उद्योगपति, बिकानेसमैन शामिल हुए। फूलों से सजे हुए उनके पार्थिव शरीर को लेकर उनके पोते चेतन मालड़ा और जय मालड़ा उनको अंतिम यात्रा पर लेकर गए। देव राज के मालड़ा के बेटे मनोज कुमार मालड़ा ने अपने पिता का अंतिम संस्कार किया। इस अवसर पर लुधियाना के मशहूर पन्ना पकौड़े वाला श्री बलदेव राज, सन्नी मांडियान, राकेश फाउंडरी वाले स्वर्णजीत मालड़ा, राकेश मालड़ा, सुरजीत कुमार मांडियान, राज कुमार, बमोत्रा हौकारी वाले राम शरन बमोत्रा, प्रेम कुमार लमसर, विक्रम बख्शी, जगराओं से सुभाष चन्द्र, कपूरथाल से सतपाल मेहरा, कश्यप क्रांति के मालिक नरेन्द्र कश्यप, मुख्य संपादक श्रीमति मीनाक्षी कश्यप, कश्यप समाज आश्रम हरिद्वार से प्रधान बुद्ध सिंह, सेक्रेटरी टीम के साथ शामिल हुए और भीगी आंखों से देव राज मालड़ा को अंतिम विदाई दी।
श्री देव राज मालड़ा एक बहुत ही मिलनसार, हंसमुख स्वभाव के मालिक और जिंदादिल इंसान थे। देव राज मालड़ा जी 1995 में द पंजाब कश्यप राजपूत सभा के प्रधान रहे हैं। लुधियाना में बने कश्यप समाज के दुर्गा मंदिर के वह संस्थापक और प्रधान रहे हैं। हरिद्वार में बने हुए कश्यप समाज आश्रम के वह मुख्य सरप्रस्त थे और इसको बनाने में इन्होंने बहुत सहयोग दिया था। जिस समय इसका पहला लैंटर डाला गया उस समय वह वहीं मौजूद थे। कश्यप समाज को उनका बहुत योगदान रहा है। कश्यप क्रांति पत्रिका के वह शुरुआती सदस्य थे, जिसको सफल बनाने में इनका बहुत सहयोग रहा है। कश्यप राजपूत परिवार सम्मेलनों में वह बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेते थे। कश्यप समाज के प्रति उनकी सेवाओं को ध्यान में रखते हुए कश्यप क्रांति पत्रिका व कश्यप राजपूत मैंबर्स एसोसिएशन की तरफ से परिवार सम्मेलन में उनको लाइफ टाइम अचीवमैंट अवार्ड से सम्मानित किया गया था।
उनके असमय निधन से कश्यप समाज और परिवार को बहुत नुक्सान हुआ है। इनकी कमी परिवार के साथ साथ कश्यप समाज को भी बहुत खलेगी जिसकी भरपाई कभी नहीं की जा सकती। हम भगवान से प्रार्थना करते हैं कि वह देव राज मालड़ा की आत्मा को अपने चरणों में निवास दे और परिवार को इस दु:ख को सहने की शक्ति प्रदान करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *